Ticker

6/recent/ticker-posts

Happy Women's Day Speech in Hindi 2022 | हैप्पी वीमेन'स डे स्पीच इन हिंदी

Happy Women's Day Speech in Hindi 2021 | हैप्पी वीमेन'स डे स्पीच इन हिंदी

हैप्पी वीमेन'स डे स्पीच इन हिंदी 2022 | Happy Women's Day Speech in Hindi

नमस्कार, Happy Women's Day 2022 दोस्तों, आज महिला दिवस के (Women's Day) अवसर पर आपके सामने अपने कुछ विचार देने वाला हूँ / वाली हूँ। आप मेरे इस महिला दिवस  के भाषण (Women's Day Speech) से प्रेरित होते हैं, तो आप महिलाओं के सशक्तिकरण में अपना सहयोग दें। 

Mahila diwas speech 2022 | Mahila diwas par bhashan

भारत एक खूबसूरत देश है, यहाँ सभी तरह के रीति रीवाज़ों का चलन है। वही दूसरी तरफ यही रीति रीवाज़ों की वजह से कुछ महिलाओं को जीवन में कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। आज हम एक आधुनिक युग में जी रहे हैं किंतु महिलाओं कि स्थिती में बहुत अधिक सुधार नही हुआ है। महिलाओं पर हमेशा से पुरुष सत्तातमकता हावी रही है और उसके दुष्परिणाम महिलाओं को चुकाने पड़े हैं। 

महिलाओं का सशक्तिकरण, आज समय  बहुत जरूरी है। क्युकी जिस देश में महिलाओं में पिछड़ापन होगा वह देश कभी भी उन्नत नही हो सकता। ऐसा माना जाता रहा है कि महिलाएं सिर्फ घर का काम करने के लिए और बच्चे पैदा करने के लिए बनी हैं। आज महिलाओं ने हर क्षेत्र में सफलता हासिल करके उस सोच को गलत साबित कर Diya है। आप चाहें चिकित्सा क्षेत्र, इंजिनियरिंग, सेना, पुलिस या सरकारी दफ्तरों की जॉब हो या छोटे व्यवसाय से लेकर बड़े उद्यम तक, सभी जगह महिलाएं अच्छा काम कर रही हैं। 

आपसे महिला दिवस (Women's Day) पर कहना चाहूँगा / चाहूंगी कि स्त्रियों में भी किसी काम को करने की अपार क्षमता होती है। चाहे वो creative fields की बात हो या सामाजिक सेवाओं की। बस उनको सही अवसर और सशक्तिकरण की आवश्यकता है। वैसे तो समय समय पर सरकार महिलाओं को Encourage करने के लिए योजनाएं लाती रहती है। सच तो यह है कि उतना काफी नही है। महिलाओं को सामाजिक सुरक्षा, समानता और शिक्षा देने के लिए सभी को आगे आना चाहिए। 

Antar Rashtriya Mahila Diwas 2022

अंतराष्ट्रीय महिला दिवस 2022 (International Women's Day 2022), में हम सभी को ये सोचना चाहिए कि हम स्त्रियों को आगे बढ़ने में कैसे मदद कर सकते हैं। यदि आप पुरुष हैं तो आपको ये सोचना चाहिए कि महिलाएं भी मनुष्य ही हैं। वो किसी अन्य Race से नही हैं। आप उनके साथ वैसा ही व्यवहार करें जैसे आप अपने किसी पुरुष मित्र के साथ करते हैं। गलियों में उन पर फब्ति ना कसें, ऑफिस में उन पर कार्य का दबाव बनाकर, शरीरिक या मानसिक शोषण ना करें। घर पर माँ और बहनों के साथ व्यवहार अच्छा रखें और पत्नी के साथ घरेलू हिंसा या शरीरिक शोषण ना करें। 

भारत में महिला दिवस (Women's Day in India) में हम सभी को सुनिश्चित करना चाहिए कि, हमारे घरों में कोई भी लड़की या महिला अशिक्षित ना हो। उनकी पढाई को रोके नही।  एक शिक्षित महिला ही एक अच्छे परिवार और राष्ट्र का निर्माण कर सकती है। 

Post a Comment

0 Comments