Ticker

6/recent/ticker-posts

Working Women Personality Development 5 Tips in Hindi | कामकाजी महिला व्यक्तित्व विकास

Working Women Personality Development 5 Tips in Hindi | कामकाजी महिला व्यक्तित्व विकास

कामकाजी महिला व्यक्तित्व विकास | How to Develop Personality of Working Women? 

How can a Woman Improve her Personality?

व्यक्तिगत विकास के लिए आप कैसे समय निकलती हैं, जब आपके पास प्रतिदिन करने के लिए हज़ारों काम हैं? भारत में अभी भी कामकाजी महिलाओं के व्यक्तित्व विकास (Working Women Personality Development) के लिए बहुत कुछ होना बाकी है। 

Personality Development Meaning in Hindi- व्यक्तित्व विकास 

वास्तव में, अपने आप को विकसित करने और कुछ सीखने के तरीके खोजने में इतना समय नहीं लगता है। आत्म-विकास के लिए और अपने दिमाग को समृद्ध बनाने के कई Easy और Effective तरीके हैं। यहां व्यस्त या कामकाजी महिलाओं (Working Women) के लिए 5 व्यक्तिगत विकास के tips दिए गए हैं।

What are the 5 areas of personality development? | Tips to Personality Development for Woman.

1. प्रश्न पूछे | Ask Questions

जिज्ञासु मन रखने से, आप बहुत प्रयास किए बिना, हर दिन बहुत कुछ सीख सकते हैं। सवाल पूछने से आपको दिमाग का मानसिक विकास होता है, और आप जादा मेहनत किये बिना बहुत कुछ सीख सकते हैं। प्रश्न पूछने से आपकी प्रतिभा का विकास होता है- यहां तक ​​कि उन क्षेत्रों में भी जहाँ आपको लगता है कि आप अच्छी तरह से जानते हैं।

प्रश्न बहुत शक्तिशाली होते हैं, क्योंकि प्रश्न लोगों की सफलता की कहानियों को उजागर करने में आपकी सहायता कर सकते हैं, और आपको यह जानने में मदद कर सकते हैं कि उन्हें क्या प्रेरित करता है।

जैसा कि आप किसी मित्र या अनुभवी गुरु की बात सुनते हैं, तो आप को अहसास होगा कि आपको जो जानकारी मिलती है, वो वही है जो आपको व्यक्तिगत चुनौतियों से पार पाने, अपने करियर में आगे बढ़ने या अपने स्वयं के लक्ष्यों के लिए प्रेरणा पाने के लिए चाहिए।

2. छोटे और Practical लक्ष्य निर्धारित करें

यह बिल्कुल घर बनाने जैसा है, मतलब एक एक करके इट रखते जाना है। व्यक्तित्व विकास को विकसित करना आसान है। यदि आप केवल उस जगह पर ध्यान केंद्रित करते हैं जहां आप अभी हैं और जहां आप होना चाहते हैं। तो आप के लिए खुद को Improve करना आसान हो जायेगा। क्युकी व्यक्तित्व विकास के लिए inspiration और विजन का होना बहुत जरूरी है। 

हालाँकि आत्म-सुधार करने का एक बेहतर तरीका है - आप अपने लिए छोटे छोटे practical goals बनाएं और उनको पूरा करते जाएं। यहाँ एक उदाहरण है: यदि आपकी Reading Skill बहुत अधिक अच्छी नहीं हैं, लेकिन अधिक पढ़ना चाहते हैं, तो एक महीने में एक पुस्तक को पढ़ने का लक्ष्य निर्धारित करें, एक दिन में एक पुस्तक नहीं।

ऐसे छोटे लक्ष्य आपको उत्साहित करेंगे, और क्योंकि उनको प्राप्त करना आसान होता है, वे आपकी क्षमताओं और आपके आत्मविश्वास को बढ़ाएंगे।

3. अपनी गलतियों से सीखो | Learn from your Mistake

अपने में लगातार सुधार करने के सबसे बड़े तरीकों में से एक तरीका है, अपनी गलतियों से सीखना। चूंकि हम हमेशा गलतियाँ करते हैं, इसलिए आत्म-सुधार की संभावनाओं का कोई अंत नहीं है। Try करें की आपकी सुधारे जा सकने वाली गलतियों को एक diary में लिख लें और उन पर काम करें। 

इंट्रपर्सनल इंटेलिजेंस (Interpersonal Intelligence) वाले लोग चिंतनशील होते हैं, और अपने विचारों और कार्यों का विश्लेषण करने के लिए समय लेते हैं। आपको उन तरीकों के बारे में सोचना चाहिए, जिनसे आप किसी कठिन स्थिति को बेहतर तरीके से संभाल सकें और जिससे आपको भविष्य में अधिक संतोषजनक परिणाम प्राप्त करने में मदद मिले।

4. शरीर की जागरूकता विकसित करें | Develop Body Awareness

आप हमेशा प्रयास करें कि सीधे खड़े हो, सही body posture आप में आत्म विश्वास को बढ़ता है और दिखाई भी देता है। यहाँ आप में आत्मविश्वास लाने के लिए कुछ सरल योग आसन हैं:

  • अपने ऊपर खिंची हुई बाहों के साथ अपनी एड़ी पर खड़े होकर, अपने आप को जितना संभव हो उतना straight कर लें। 2 गहरी साँसें लेने के बाद वापस नीचे आएं। दो बार दोहराएं।
  • दाएं पैर को मजबूती से फर्श पर रखें, बाएं पैर को उठाएं और अपने दाहिने पैर (घुटने को छोड़कर) पर कहीं रखें। संतुलन। धीरे-धीरे अपनी बाहों को V शेप में आप के ऊपर रखें। बिल्कुल एक पेड़ की तरह straight और जमीन पर खड़ा है। लेकिन आपको गिरने की जरूरत नहीं है, शुरुआत में आपको दिक्कत होगी । आप गहरी सांस लें और ध्यान केंद्रित करें। फिर यही प्रक्रिया दूसरी तरफ दोहराएं।

5. Communication skills की Practice

दर्पण के सामने या close friends / परिवार के सदस्यों के साथ अपने communication skills का अभ्यास करें। अपनी professional आवाज विकसित करें। उस आवाज को सामने लाएं जो आत्मविश्वास से भरी और strong हो। दबी आवाज़ में बोलने की कोशिश न करें, बल्कि इस तरह से संवाद करें जो स्पष्ट, संक्षिप्त और relaxed हो। आप अपनी listening skills का भी अभ्यास करें ताकि आप दूसरों को काटें नहीं बल्कि alert रहें। अपने क्षेत्र में कोई अच्छा tutor खोजें। वे वास्तव में आपके verbal skills का अभ्यास करने में मदद कर सकते हैं।

आशा करते हैं कि आपको Working Women Personality Development 5 TIPS in Hindi | कामकाजी महिला व्यक्तित्व विकास के ये tips आपको पसंद आये होंगे। अपने सुझाव कॉमेंट करके जरूर दें। 


 

Post a Comment

0 Comments